मैं विभोर हूँ प्राण !……

                                           मैं विभोर हूँ प्राण  !

 

                                              बंद किये मैंने  दरबाजे हारकर,
                                             तभी प्राण , तुम आई मेरे द्वार पर!
                                                                    
                                                                       दूरी की सारी सीमाएं जीत लीं,
                                                                       किसी विगह के आकुल मन के गीत ने |
                                                                       वर्तमान  की धरती पर अब पग धरे,
                                                                       फिर से मेरे भूले हुए अतीत ने |
 
                                         याद, नयन में सागर फिर तुमने कहा –
                                         ‘मेरी सुधि को रखना तनिक सवांर कर !
                                          बंद किये मैंने दरबाजे हारकर
                                          तभी प्राण, तुम आई मेरे द्वार पर !
 
                                                                      दिन-जैसा न लगाव रहा है  छांह का,
                                                                      जो समीपता छोड़ साँझ  को बढ़ चली |
                                                                      खड़ी अपरिचय की रेखा पर किन्तु ये
                                                                       उजली-उजली धुप साँवली पड़ चली |
 
                                       किन्तु  सांध्य-तारा की छाया-कृति बना !
                                       दिया जल रहा खंडर हुई मजार पर !
                                       बंद किये मैंने दरवाजे  हारकर,
                                       तभी प्राण, तुम आई मेरे  द्वार पर |
             
                                                                                            
                                                                                                           –  श्रीकृष्ण शर्मा

 

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s